Uncategorized

सर्वआत्माओं के परमपिता परमात्मा शिव का प्रिय महीना है श्रावण

सादर प्रकाशनार्थ
प्रेस विज्ञप्ति
सर्वआत्माओं के परमपिता परमात्मा शिव का प्रिय महीना है श्रावण
सावन मास में शिव-आराधना के लिए ब्रह्माकुमारीज़ सेवाकेन्द्र में आने लगे श्रद्धालु
टिकरापारा के आनंद वाटिका व राजकिशोर नगर के शिव-अनुराग भवन में दूध, मधु व जल से किया गया शिव जी का अभिषेक

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

बिलासपुर टिकरापारा/राजकिशोरनगर :- भगवान शिव देवों के देव व हम सभी आत्माओं के परमपिता हैं। वे स्वयं हमारी बुराईयों रूपी विष को धारण हमें सोमरस अर्थात् ज्ञान रूपी अमृत का पान कराते हैं इसलिए सभी भक्त श्रावण मास के हर सोमवार को शिव जी की विशेष पूजा करते हैं। हम भी उनसे आत्मिक संबंध जोड़कर उनके बंधन में बंध जाते हैं तब वे भी हमारे लिए संसार को सुख-शान्ति-समृद्धि से संपन्न बनाते हैं। सावन का महीना कल्प के संगमयुग के समान है जहां आत्माओं का मिलन अपने पिता परमात्मा शिव से होता है। इसलिए भक्त और भगवान का मिलन इस समय ही होता है और इसी कारण भगवान शिव का यह प्रिय महीना है।
इस अवसर पर ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा के आनंद वाटिका व राजकिशोर नगर स्थित शिव-अनुराग भवन में स्थित शिव जी के मंदिर में सेवाकेन्द्र की बहनों व श्रद्धालुओं के द्वारा भोलेनाथ की पूजा की गई व दूध, मधु व जल से अभिषेक किया गया। टिकरापारा में शशी बहन, गायत्री बहन, पूर्णिमा बहन, श्यामा बहन व राजकिशोर नगर में रूपा बहन व समीक्षा बहन सहित साधक गण उपस्थित रहे। बहनों ने बताया कि सेवाकेन्द्र में शिव की वाणी ज्ञान मुरली सुबह व शाम को प्रतिदिन सुनाई जाती है व इस श्रावण मास में हर सोमवार को भगवान शिव की पूजा के लिए श्रद्धालुजन आ सकते हैं।

Source: BK Global News Feed

Comment here