Uncategorized

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित वेबिनार – युवा और योग

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित वेबिनार – युवा और योग

ग्वालियर :- आज प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज़ ईश्वरीय विश्व विद्यालय की भगिनी संस्थान राजयोग एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन  के युवा प्रभाग के द्वारा “ यूथ फॉर ग्लोबल पीस” के अंतर्गत आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर एक ऑनलाइन वेबिनार का आयोजन किया जिसका विषय रखा –  “युवा  और योग” |

इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से राजयोगिनी बी.के.अवधेश बहन जी (क्षेत्रीय निदेशिका, भोपाल ज़ोन), श्री पवन गुरु, योगाचार्य (अध्यक्ष डॉ. गांगुली योग विद्या पीठ संस्था और योग साधना एवं अनुसंधान केंद्र भोपाल), बी.के.रेखा बहन (संयोजिका युवा प्रभाग भोपाल ज़ोन सीधी), बी.के. डॉ. रानी बहन, सतना (गिनीस वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर स्ट्रोगेस्ट वूमन इन इंडिया), बी.के.प्रहलाद (सदस्य युवा प्रभाग भोपाल ज़ोन) उपस्थिति रहे |

कार्यक्रम में बी.के.रेखा बहन ने सभी का स्वागत अभिनन्दन किया साथ ही साथ इस कार्यक्रम के उद्देश्य को बहुत ही सुन्दर रीती से समझाते हुए बताया कि यह कार्यक्रम युवाओं को योग और योगा के प्रति जागरूक करने के लिए रखा गया तथा इससे सभी के जीवन में होने वाले फायदों को भी स्पष्ट किया | साथ ही उन्होंने सभी युवाओं को संबोधित करते हुए बताया कि योग स्वस्थ्य और खुशहाल जीवन जीने के लिए हमें बहुत मदद करता है योग की मदद से युवा अपने जीवन को चरित्रवान बना सकते हैं |

तत्पश्चात भोपाल ज़ोन की निदेशिका बी.के.अवधेश बहन जी ने सभी को योग दिवस की शुभ कामनाएं देते हुए बताया कि आज भारत का प्राचीन योग पूरे विश्व भर में बहुत ही मशहूर है | तो आज का दिन सभी युवाओं के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योकि अगर युवा यह संकल्प लें और इस कार्य मे सहभागी बने साथ ही अपनी शक्तियों को पहचान ले तो सहज ही इस अध्यात्मिक योग और योगा को सारे विश्व मे प्रत्यक्ष कर सकेंगे| वर्तमान युग है विज्ञान का युग परन्तु आध्यात्मिक विज्ञान का किसी को भी पता नहीं है | आज विज्ञान के साथ तो सभी चलते हैं परन्तु उसके साथ साथ ज़रूरत है आध्यात्मिक वैज्ञानिक बनने की, उसके लिए अपना कनेक्शन पिता परमात्मा से जोड़ ले तथा सर्व सम्बन्ध उसके साथ निभाए और अपने संकल्पों को व्यर्थ से समर्थ मे परिवर्तन करें, नकारात्मक विचारों की जगह  सकारात्मक विचार करें जिससे मन शक्तिशाली होने लगेगा, अपने लक्ष्य पर एकाग्र हो सकेंगे तथा हर कार्य में सफलता ज़रूर मिलेगी | आज सभी युवाओं के लिए सब कुछ बहुत आसान है बस निश्चय रखें स्वयं के प्रति इसके साथ ही अन्य सभी के प्रति शुभ भावना और शुभ कामना रखें तो स्वत ही लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे| क्योकि हमारी सोच ही हमारा स्वरुप बनती है जैसा हम सोचेंगे वैसा ही हम बन जायेंगे | अंत में उन्होंने सभी से यह संकल्प करवाया कि अगर सभी को अपने जीवन से प्रेम है तो योग से अपनी शक्तियों को बढाओ तथा  व्यर्थ से हटकर अपने जीवन को समर्थ में लगाओ, विस्तार से सार मे चले जाओ तो सफलता अवश्य ही सभी को प्राप्त हो जाएगी | कहते भी है “युवा तू है सर्व महान, तू है जग की शान” अर्थात महान बनना है और इस जग को महान बनाना है | इसके साथ ही उन्होंने सभी को राजयोग मैडिटेशन का अभ्यास भी कराया |

योगाचार्य श्री पवन गुरु ने बताया की आज के समय  में शारीरिक के साथ मानसिक रूप से भी स्वस्थ रहना अतिआवश्यक है | तो शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए रोज़ सुबह उठ कर योगा करना अनिवार्य है  क्योकि यह मदद करेगा आपके जीवन को स्वस्थ और सुन्दर बनाने में | आज कल सभी लोग निजी जीवन का  कार्य करते करते थक जाते हैं जिस वजह से थकान, आलस्य, चिडचिडापन होना स्वाभाविक है तो अगर हम सभी रोज़ सुबह उठ कर ज्यादा नहीं बस तीस मिनट भी अपने लिए अपने शरीर के लिए निकाल लेंगे तो सारे दिन के कार्य भी ख़ुशी के साथ संपन्न कर पाएंगे बिना थकावट बिना तनाव के साथ ही उन्होंने वेबिनार में उपस्थित सभी को कुछ योग क्रियाएं एवं प्राणायाम भी कराया जिसका लाभ पूरे म. प्र. से जुड़े युवा साथियों ने उठाया |

कार्यक्रम के अंत में बी.के.डॉ.रानी बहन वेबिनार मे उपस्थित सभी युवाओं का तथा अतिथियों का आभार व्यक्त किया |

तथा कार्यक्रम का कुशल संचालन बी.के.प्रहलाद भाई द्वारा किया गया |

कार्यक्रम का विडियो लिंक (21-06-2021)

वेब न्यूज़ लिंक

  1. newindiatimes.net/?p=74907
  2. https://sandhyadesh.com/full_news.php?newsid=6146
  3. http://byline24.com/?p=3508

Source: BK Global News Feed

Comment here