Uncategorized

ब्रह्माकुमारी राजयोग केंद्र भीनमाल – महाशिवरात्रि महोत्सव का शुभारंभ !!

महाशिवरात्रि महोत्सव का शुभारंभ !!

ब्रह्माकुमारी राजयोग केंद्र भीनमाल में चार दिवसीय महाशिवरात्रि महोत्सव का शुभारंभ कर्नाटक से आयी मुख्य अतिथि राजयोगिनी बीके वीणाबेन एवं दंडीस्वामी आश्रम के शंकराचार्य स्वामी श्री तीर्थानंद जी महाराज खांडादेवल, जालौर राजयोग सेवा केंद्र की प्रभारी ब्रह्माकुमारी राजयोगिनी रंजू बहन जी, भ्राता नगराज जी पुरोहित, रमेश पुरोहित, भ्राता सगाराम माली के विशिष्ट आतिथ्य में संपन्न हुआ .

           इस अवसर पर बीके वीणा बहन जी ने श्रीमद भगवत गीता ज्ञान का सच्चा परिचय देते हुए कहा कि जीवन में ज्ञान को केवल सुनना ही सार्थक नहीं है, जब तक की उस ज्ञान को जीवन में धारण कर उसका अनुसरण नहीं किया जाए इसलिए हमें गीता के ज्ञान को समझ कर उस पर चलना चाहिए !

उन्होंने विभिन्न उदाहरणों के माध्यम से श्रीमद भगवत गीता के ज्ञान को विस्तार से समझाया कि अर्जुन के किंकर्तव्यविमूढ़ अवस्था के बारे में स्पष्ट करते हुए वर्तमान लोगों के तनाव की स्थिति को स्पष्ट किया, साथ ही बताया आज भी मनुष्य गीता को सुनने वाले चार प्रकार के पहला अर्जुन दूसरा संजय जिसने दिव्य दृष्टि से सुना तीसरा धृतराष्ट्र हनुमान जी पांचवी श्वेता में सुनना चाहते थे लेकिन रीजन के पक्ष में खड़े होने की वजह से एक शब्द भी सुन नहीं पाए साथ ही यह भी बताया कि हम चार प्रकार से ईश्वर को भेजते हैं यह तो वह दुकाने पर ईश्वर को याद करते हैं दूसरे को जो काम होने पर काम के बदले में कुछ देने का भाव रखते हैं तीसरे वह जानने की इच्छा रखता है और सोते हो जो ज्ञानी पुरुष है 9 मिनट 9 ब्यावर प्रकाश डालते हुए बताया कि देवताओं को पूछने वाले देव लोक देवताओं के पास भूतों को पूजने वाले भूतों के पास और पूर्वजों को पूजने वाले पुरुषों के पास मुझे बजने वाले मेरे पास पहुंचते हैं इससे स्पष्ट होता है कि मुझे कहने वाला आखिर कौन देवता है पूर्वज भूत है तो वह कौन है उसे जानना है गीता ज्ञान दाता को जानना है स्वयं को जानते हुए भी मनुष्य आज पूछता है स्वयं को नहीं जानते हुए भी मनुष्य दूसरों से पूछता है कि तू जानता नहीं मैं कौन हूं मैं कौन हूं खुद खुद समझ जाता तो दूसरों से पूछने की जरूरत ही नहीं पड़ती इस प्रकार से स्पष्ट किया

            स्थानीय सेवा केंद्र प्रभारी बीके गीता बहन जी ने चार दिवसीय महाशिवरात्रि महोत्सव एवं 12 ज्योतिर्लिंगम जातियों के बारे में सभी को विस्तार से जानकारी प्रदान की तथा सभी आगंतुक मेहमानों का पुष्पमाला, ताज, शौल  और साफा पहनाकर स्वागत किया गया !

            इस अवसर पर भ्राता नगराज जी पुरोहित ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में समस्या है परंतु श्रीमद्भगवद्गीता का अनुसरण एवं राजयोग के द्वारा सभी प्रकार की समस्या एवं तनाव से मुक्त हो सकते हैं !

कार्यक्रम में पधारे सभी मेहमानों का आभार मंडार सेवा केंद्र प्रभारी शैल बहन के द्वारा किया गया !

              जालौर केंद्र की प्रभारी बीके रंजू बहन ने सभी को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई देते हुए कहा कि वह कार्य सहज और सफल होता है जो हम अपने आप को निमित्त मानकर व् परमात्मा को साथ में रखकर करते हैं

महाशिवरात्रि के उपलक्ष में इंदिरा कॉलोनी के नगरपालिका गार्डन में शंकराचार्य तीर्थआनंद जी  एवं गीता ज्ञान एपिसोड की वक्ता ब्रह्मा कुमारी वीणा बहन ,महात्मा गांधी सीनियर सेकंडरी विद्यालय की प्राचार्य कीर्ति बहन वाजपेयी, आदर्श महाविद्यालय  के प्राचार्य नरेंद्र आचार्य, जालौर राजयोग केंद्र की प्रभारी ब्रह्माकुमारी रंजू बहन, प्रभु वरदान भवन की प्रभारी ब्रह्माकुमारी गीताबेन के सानिध्य में शिव ध्वजारोहण कर चार दिवसीय मेले का विधिवत उद्घाटन किया गया / साथ ही द्वादश ज्योतिर्लिंग पंडाल मैं दीप प्रज्वलित कर भक्तो के दर्शनार्थ कपाट खोले गए  साथ ही अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस होने के उपलक्ष में नारी सशक्तिकरण  पर बहुत ही सुंदर नाटिका ब्रह्माकुमारी कोमल बेन एवं उनकी टीम द्वारा प्रस्तुत की गई सभा में उपस्थित सभी भाई बहनों ने गंभीरता पूर्वक नाटिका का लाभ उठाते हुए उसकी बहुत ही सराहना की जिस पर प्रफुल्लित होकर तीर्थ आनंद जी महाराज ने नाटिका के सभी पात्रों को पारितोषिक प्रदान कर सम्मानित किया इस कार्यक्रम में आकर्षक का केंद्र बना कुंभकरण का लाइव शो का भी विधिवत उद्घाटन कर जीवन को उज्जवल बनाने का संदेश प्राप्त किया यह तो सभी को बहुत ही पसंद आया और इससे शो को देखकर सभी ने प्रतिज्ञा की कि हम अपने जीवन से बुराइयों को निकाल कर अच्छाइयों को जगह देंगे इस अवसर पर भीनमाल नगर पालिका के वार्ड पंच भ्राता पारसमल  ,सविता देवी. गोमती देवी सांखला का भी गीताबेन द्वारा शाल ओढ़ाकर उनका सम्मान किया गया ब्रह्माकुमारी गीता बहन ने सभी से अपील की मेला शिवरात्रि तक अनवरत रूप से चलता रहेगा भीनमाल और भीनमाल के आसपास के नागरिकों को इस मेले में पधार कर जीवन को जीने की नई कला सीखने का अवश्य ही प्रयास करना चाहिए । कार्यक्रम को वृद्ध गुमान सिंह जी राव   भ्राता नगराज जी पुरोहित भ्राता रमेश जी पुरोहित प्रातः सागरमल माली ब्रह्माकुमारी रंजू बहन, ब्रह्माकुमारी गीताबेन, ब्रह्माकुमारी  सेल  बहन ने संबोधित किया कार्यक्रम का संचालन भ्राता मीठा लाल जांगिड़ ने किया अंत में सभी ने ब्रह्माभोजन ग्रहण किया

इस अवसर पर अर्जुन भाई, गणेश भाई, कालूराम भाई, बी. एल. सुथार, दला भाई, वेदपाल, मदन, गुमानसिंह राव,  लक्ष्मण भाई भजवाड़, मंगल, बालोद, सोनाराम माली, लक्ष्मीकांत भाई, पिंटू भाई, हसमुख भाई, कीर्ति बहन, संध्या बहन, सुमन बहन, सुनीता बहन, अंजली बहन, कोमल बहन,  मालती बहन, नरेंद्र जी आचार्य, जोरसिंह देवड़ा, राधा बहन, शारदाबेन, कुमुदबेन, सविता बहन, उर्मिला खंडेलवाल, गजराज पुरोहित, मुकेश भाई, मोहन भाई एवं भीनमाल के कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे !!

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 25%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

Source: BK Global News Feed

Comment here