Uncategorized

Poem 1

प्रभु प्रेम की पाती है ज्ञान मुरली आयी
बाबा ने हमें आज बडे नशे की बात बतायी
कभी ख़्वाबों खयालो में नही था  भगवान हमको पढ़ाएंगे
सर्वशक्तिमान बाप से बल लेकर विश्व का मालिक बन जाएंगे
कितनी खुशी की है बात जब पढ़ाई से ऊंच पद मिलता है
है बहुत इजी सिर्फ सवेरे आधा पौना घंटा पढ़ना है
अब बाबा हमे सीनार (धार) पर चढ़ा रहे हैं
हमे श्याम से कृष्ण जैसा सुंदर बना रहे है
लेकिन अपने आपको देखना है
हम लक्ष्मी नारायण समान बनना है
ऐसा कोई मैनर्स ना हो जो बाप की आबरू जाये

युक्ति युक्त बन हर कर्म में नही होना है लूज़
मनसा, वाचा, कर्मणा,में रूहानियत की शक्ति को यूज
खुशी और शक्ति की अनुभूति का एक ही है साज
सत्यता की विशेषता ही है इसका अनोखा राज।

सभी शिव बाबा✨ के प्यारे प्यारे
बच्चों को 🙏ओम शान्ति🙏

Source: BK Global News Feed

Comment here