Uncategorized

Silver Jubilee Celebration of Ajmer Dholabhata Centre

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय धोला भाटा सेवा केंद्र अजमेर अपनी ईश्वरीय सेवाओं का 25 वर्ष का सफर तय कर रहा है इस कार्यक्रम की सिल्वर जुबली मनाई. इस कार्यक्रम मे राजयोगनी शिक्षिका अंतर्राष्ट्रीय मुख्यालय माउंट आबू एवं अंतर्राष्ट्रीय वक्ता राजयोगनी शीलू बहन,राजयोगी सुरेन्द्र भाई (नीमच डायरेक्टर),  बी के विवेक भाई (माउंट आबू) बी के सविता,बी के सुनिता,बी के रुपा, बी के आशा, पाठक जी महाराज चित्रकूट धाम पुष्कर ,नितिन शर्मा ,शलेश गर्ग ने द्वीप प्रज्वलन का कार्यक्रम का शुभराभ किया । 
 
इस  ब्रह्मा कुमारी राजयोग सेंटर से एक शोभा यात्रा का आयोजन भी किया गया है, कार्यक्रम में घोड़े गाड़ी बग्गी में  राजयोगनी शीलू बहन, राजयोगिनी शांता बहन विराजमान थे। बैंड बाजे के साथ यह यात्रा लक्ष्मी गार्डन धोला भाटा पहुंची और साथ  मे शिव की बारात भी  थी। इस अवसर पर केक भी काटा गया जिस पर सिल्वर जुबली लिखा हुआ था ।
 
शीलू बहन ने कहा कि आध्यात्मिक प्रेम और आनंद की अनुभूति तभी हो सकती है जब परमानंद परम ज्योति परम शिक्षक, परम सतगुरु, परमपिता परमात्मा से हमारा संबंध जुड़ जाए तो परम आनंद की अनुभूति हो सकती है. इस अनुभूति को ही राजयोग कहा जाता है राजयोग से ही आत्मा को बल मिलता है और आत्मा शक्तिशाली बनने लगती है. राजयोग ही  वह शक्ति है जिससे हमारे विकार समाप्त हो जाते हैं 
 
इस अवसर पर राजयोगनी शांता बहन ने कहा सर्व आत्माओं के पिता परमात्मा शिव है वहीं आकर हमें राजयोग की शिक्षा देते हैं और राजयोग के बल से यह हमें सुख-शांति की प्राप्ति होती है. नीमच के सुरेंद्र भाई ने कहा कि मैं आज जिंदा हूं तो राजयोग के बल से ही जिंदा हूं मुझे नौ नौ ब्रेन ट्यूमर हो गए थे. लेकिन राजयोग की शक्ति से मैं आज भी अनेक कार्यक्रम करता हूं और साधारण  जीवन यापन कर रहा हूं. आबू से पधारे ब्रह्माकुमार विवेक भाई ने कर्मक्रम का  जोरदार संचालन किया । 
 
इस अवसर पर  बालिकाओं ने राजस्थानी नृत्य भी प्रस्तुत किया ।  25 वर्षों का सेवाओं का जो सफर तय किया उसका विवरण स्क्रीन पर प्रस्तुत किया.  जिसमे अनेक वी आई पी के साथ  फोटो थे इस अवसर पर सेवा केंद्र की संचालिका बी के कल्पना बहन ने कहा कि 25 वर्ष का समय कैसे निकल गया कुछ पता  ही नही, खुशी खुशी दिन निकल गये.  बी के योगनी,  बी के रूपा बहन बी के आशा ,बहन भी मौजूद रहे और ब्रह्माकुमारी परिवार
के अनेक भाई  बहन मौजूद  रहे.  दिव्य दर्पण भवन भरत वाटिका के पीछे से शुभारम्भ हुआ ।
 
कार्यक्रम के अंत में ब्रह्मा कुमारी सविता बहन राजयोग की सुखद अनुभूति कराई ।  आज ब्रह्माकुमारीज़ ईश्वरीय विश्वविद्यालय के भव्य सिल्वर जुबली समोराह में अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।   दुखियों का सहारा चेयर पर्सन युवा नेता नितिन शर्मा सिंधी समाज के जिला महामंत्री गिरीश लालवानी,कांग्रेश महिला उपाध्यक्ष रागिनी चतुर्वेदी डिवाइन अडोप फाउंडेशन चेयर पर्सन गुलशा बेगम ने शीलू बहन का बुके भेंट कर स्वागत किया ।

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 25%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

Source: BK Global News Feed

Comment here