Uncategorized

Chandrapur : सकारात्मक मन के लिए शिवस्मृती की अत्यंत आवश्यकता है

समाज की विकृतींयों का समाधान ‘सकारात्मक जीवनशैली’
कर्मयोग से कार्यक्षमता एवं एकाग्रता में वृध्दी होती है
सकारात्मक जीवनशैली अपनाए
       – राजयोगिनी ब्र.कु. कुसुम दिदीजी
चंद्रपूरः
समाज की विकृतींयों का समाधान ‘सकारात्मक जीवनशैली’ है। सशक्त व सकारात्मक मन के लिए शिवस्मृती की अत्यंत आवश्यकता है। आपने दैनिक कार्य करते हूए परामात्मा की याद करना मानाही कर्मयोग है, और उससे मानव की कार्यक्षमता एवम् एकाग्रता वाढती है। अतः ते सकारात्मक जीवनशैलीका अपनाए ऐसा प्रतिपादन आशिर्वचन देते हूए राजयोगीनी ब्र.कु. कुसुम दिदीजी ने किया। स्थानिक प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालयाद्वारा 84 वे महाशिवरात्री महोत्सव के उपलक्ष में ‘वन गाॅड वन वल्र्ड फॅमिली’ इस संकल्पना पर आधारीत मार्गदर्शन कार्यक्रम में वे बोल रही थी। कार्यक्रम के प्रमुख अतिथी माजी केंद्रिय मंत्री हंसराज अहीर ने कहा की ब्रह्माकुमारीज संस्था भारत की मौलिक संस्कृतीका वास्तवीकता से जतन कर रहा है और भारत का मान सारे विश्व में बढा रहा हैं। मुख्य वक्ता ब्र.कु. कंुदा दिदीजी ने  परामात्मा एक है इस विषय पर अनेक धर्मो के शास्त्रशुध्द उदाहरण प्रस्तूत किए और परमात्मा सतयुगी सृष्टी के नवनिर्माण का कार्य कर रहे है यह संदेश दिया। माजी उपमहापौर अनिल फुलझेले ने बाल्यकालसे संस्था के कार्योंका प्रत्यक्षदर्शी प्रमाण होने का उदाहरण दिया। अॅड. पुरूषोत्तम सातपुते ने ब्रह्माकुमारीज संस्था से जुडनेका आवाहन किया। ब्र.कु. मिनल दिदी ने  उपस्थितोंको राजयोग द्वारा सकारात्मक विचार, शांती, सुख और आनंद की अनुभूती कराई।
महाशिवरात्री महोत्सव के निमित्त भव्य शोभायात्रा का आयोजन किया गया था। इस शोभायात्र का शुभारंभ माजी मंत्री नरेशजी पुगलीया तथा माजी महापौर अंजलीताई घोटेकर के हस्तों से झंडा दिखाकर किया गया। परमात्मा एक है यह दर्शाने वाली सर्व धर्मांे की प्रतिकृती और विकारोंपर विजय प्राप्त कराने वाली राजयोग जीवनशैली दर्शाने वाला चैतन्य दृष्य शोभायाका आकर्षण रहा। विधायक किशोर जोरगेवार तथा कृषी जिला अधिक्षक उदयन पाटील ने सदिच्छा भेट दी और वार्तालाप किया। शोभायामें और मार्गदर्शन कार्यक्रम मे चंद्रपूर, गडचीरोली तथा यवतमाल के वनी परिक्षेत्रीय बहुसंख्य सदस्योंने सहभाग लिया। कु नुपूर, कु. खुशी, कु. तनिशा कनपल्लीवार, कु. वैद्य, कु. देशमुख आदी ने मनोरम शिव महिमा नृत्य प्रस्तृत किये। मनिश भाई ने शब्दसुमनोद्वारा स्वागत किया, प्रा. ओमप्रकाश सोनोने ने सुत्रसंचालन तथा विनोद अनमदवार ने आभार व्यक्त किये। महोत्सव की सफलता हेतू ब्रह्माकुमारीज परिवार के समस्त सदस्योंने निःस्वार्थ परिश्रम किये।

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 25%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

Source: BK Global News Feed

Comment here