Uncategorized

मेडिटेशन ट्रेनिंग केम्प में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया

#gallery-2 {
margin: auto;
}
#gallery-2 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-2 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-2 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

जिले के विभिन्न केन्द्रों पर लगभग 1000 शिविरार्थियों ने लाभ लिया

नीमच :  ब्रह्माकुमारी संस्थान द्वारा आयोजित पांच दिवसीय तनाव मुक्ति एवं मेडिटेशन ट्रेनिंग केम्प में नीमच, बघाना, सिटी, मनासा, रामपुरा, जीरन, जावद, सिंगोली तथा मल्हारगढ़,पिपलियामण्डी के केन्द्रों पर 1000 से अधिक शिविरार्थियों ने पांच दिवसीय शिविर के लिए अपना नाम दर्ज करवाया । उपरोक्त मेडिटेशन ट्रेनिंग केम्प के प्रथम दिन केवल नीमच में ही 250 से अधिक शिविरार्थियों ने भाग लिया । शिविर के प्रथम दिन दो सत्र में आयोजित ट्रेनिंग केम्प की शुरूआत में संस्थान के एरिया डायरेक्टर बी.के.सुरेन्द्र भाई ने इस प्रशिक्षण के महत्व व उपयोगिता पर शिविरार्थियों को विस्तार से समझाया, तत्पश्चात सबझोन संचालिका बी.के.सविता दीदी ने आडियो विजुअल एवं बड़े चित्रों के माध्यम से तनाव, क्लेष, अनिद्रा, डिप्रेशन आदि के कारणों पर विस्तार से समझाकर उनका निवारण बताया । साथ ही यह बताया कि यदि प्रत्येक घण्टे में केवल 1 मिनिट के लिए अपने उपर निज ध्यान केन्द्रित करके इस प्रशिक्षण के दौरान दिये जाने वाले आध्यात्मिक निवारण स्लोगन कार्ड का चिंतन किया जाए तो किसी भी प्रकार का तनाव मन में रह नहीं सकता और स्वभाव में भी अंर्तमुखता एवं खुशहाली स्वभाविक रूप से आना शुरू कर देती है । मानसिक तनाव ही अनेक बीमारियों की जड़ है । जिस कारण विश्व की 90% से अधिक आबादी ग्रसित है । किन्तु हम 24 घण्टे में से अपने स्वयं के लिए यदि केवल 30-40 मिनिट भी दें तो हमारे 24 घण्टे ही तनावमुक्त होकर आनन्द मय हो सकते हैं , इस हेतु सविता दीदी ने चित्रों व व्याख्यान के माध्यम से अनेक महत्वपूर्ण बातें समझाई ।

मेडिटेशन ट्रेनिंग के दूसरे सत्र को सम्बोधित करते हुए तनाव मुक्ति विशेषज्ञा बी.के.श्रुति बहन ने बताया कि वर्तमान समय का माहौल चारों तरफ से तनाव देने वाला है और हम उस तनाव के माहौल में रहकर इतने आदी हो चुके हैं कि तनाव मुक्त खुशहाल जीवन हमारी सोच से बहुत दूर चला गया है । हम पूजा-पाठ और अन्य धार्मिक बातें तो प्रतिदिन की दिनचर्या में करते ही हैं किन्तु आध्यात्मिकता जो कि हर धर्म का मूल आधार है,  उससे हम वंचित होते चले जा रहे हैं । ब्रह्माकुमारी संस्थान का यही प्रयास है कि राजयोग मेडिटेशन पद्धति जो कि सर्वथा, सर्व धर्मों के लिए निर्विवाद है को अपनाकर सहज ही हम अपने जीवन को खुशहाल बना सकते हैं । शिविर के अन्त में सभी को एक सुंदर होमवर्क दिया जाकर एक विशेष कार्ड दिया गया जिस पर हर घण्टे में केवल 1 मिनिट ध्यान देकर चिंतन करना है तो सहज ही सारा दिन खुशहाली में बीतेगा  ।

Source: BK Global News Feed

Comment here