Uncategorized

प्रेस विज्ञप्ति-ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा सेवाकेन्द्र पर निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया

सादर प्रकाशनार्थ
प्रेस विज्ञप्ति
स्वस्थ व्यक्ति को भी साल में एक बार हेल्थ चेकअप कराना जरूरी – डॉ. अनुज कुमार
ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा सेवाकेन्द्र पर निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया
सामान्य जांच के अतिरिक्त, बॉडी-मास इन्डेक्स, हृदय एवं उदररोग की जांच की गई, दवा भी वितरित की गई

#gallery-5 {
margin: auto;
}
#gallery-5 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-5 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-5 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

बिलासपुर टिकरापारा – एक हार्ट सर्जन होने के नाते हमें यह पता है कि आज के सोसाइटी में हार्ट की समस्याएं कितनी तेजी से बढ़ रही हैं। बहुत बार तो यह अननोटिस्ड रह जाता है। बहुतायत डर या संकोच की वजह से हम लोग डॉक्टर के पास नहीं जाते लेकिन जब तक हम रूटिन चेकअप नहीं कराते, हमें हमारे अंदर के रोगों का पता नहीं चल पाता। मेट्रो सिटीज़ के नए गाइडलाइन्स के अनुसार 35 से 40 वर्ष की उम्र के बाद वार्षिक हेल्थ चेकअप कराना जरूरी है जैसे – ब्लडप्रेशर, शुगर, ईसीजी, इको, रूटिन ब्लडटेस्ट ये सब साल में एक बार होना ही चाहिए। ये जरूरी नहीं कि आपको कोई समस्या होगी तब ही आप डॉक्टर के पास जाएं। हम उसी दिन का इंतजार करते रहते हैं और अचानक कभी कोई बड़ी समस्या सामने आ जाती है। कई बार सुनने या देखने में आता है कि अच्छा स्वस्थ दिखने वाले नवयुवक व्यक्ति को हार्टअटैक आ गया। ऐसा अचानक नहीं होता, हम सोचते हैं कि 40-50 वर्षों से हमने कोई दवा नहीं ली है तो हमें चिकित्सक के सलाह की जरूरत नहीं। लेकिन यह एक तरह का ओवर कॉन्फिडेन्स है जो हमें समस्या में डाल सकता है। इसलिए स्वस्थ व्यक्ति को भी वार्षिक हेल्थ चेकअप जरूरी है।
उक्त विचार ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा सेवाकेन्द्र में आयोजित स्वास्थ्य जांच शिविर में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए अपोलो हॉस्पीटल के कॉर्डियोलॉजिस्ट व कार्डियो थोरेसिक एवं वस्कुलर सर्जन भ्राता डॉक्टर अनुज कुमार ने दिए।
90 प्रतिशत रोगों का कारण गलत खानपान व अनियमित दिनचर्या है – डॉ. प्रवीण गोयनका
इस अवसर पर एडवांस लेप्रोस्कोपिक सर्जन व उदररोग विशषज्ञ भ्राता डॉ. प्रवीण गोयनका ने कहा कि आज की हमारी लाइफस्टाइल ऐसी है कि हर किसी को पेट से संबंधित कोई न कोई समस्या है और 90 प्रतिशत केसेस में समस्या का कारण हमारा खानपान या अनियमित दिनचर्या अर्थात् लाइफस्टाइल से संबंधित होती है। इसके निदान के लिए हम जैसी भी मदद हो सके करने को तैयार हैं, कभी-भी कोई समस्या हो तो निःसंकोच होकर हमसे संपर्क कर सकते हैं।
सेवाकेन्द्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी मंजू दीदी जी ने सेवाकेन्द्र में आने पर डॉ. अनुज, डॉ. गोयनका, डॉ. सौव्हिक कुमार व उनके सहयोगियों का स्वागत व सम्मान किया।

Source: BK Global News Feed

Comment here