Uncategorized

उदयपुर (मोती मगरी स्कीम): दिव्य गर्भ संस्कार कार्यक्रम का भव्य आयोजन

मोती मगरी स्कीम सेंटर की ओर से गर्भ संस्कार का एक सुंदर कार्यक्रम आयोजित हुआ डेढ़ सौ से अधिक लोगों ने  15 डॉक्टर ने इस कार्यक्रम को बहुत ही खुशी से सुना  सभी को ईश्वरीय सौगात भेंट की गई और सब ने अपनी इस कार्यक्रम को लेकर सराहना करते हुए शुभकामनाएं दी

मुख्य अतिथि के रूप में डॉक्टर आनंद गुप्ता इंडियन मेडल मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉक्टर कमला कब रानी सीनियर गायनोकोलॉजिस्ट उदयपुर डॉक्टर कमलेश पंजाबी सीनियर गाइनेकोलॉजिस्ट उदयपुर आए

आने वाली सुंदर पीढ़ी व मुख्य बिंदु  गर्भवती माताओं ने आने वाली पीढ़ी को सुंदर बनाने के लिए 9 माह तक गर्भ में पल रहे शिशु को सिर्फ संस्कार  देकर दिव्य संस्कार देने का शुभ संकल्प किया और इसी अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में मुंबई से पधारी डॉक्टर शुभदा नील  ने (दिव्य गर्भ संस्कार की विशेषज्ञ) कुछ मुख्य बिंदुओं पर प्रकाश डाला

  1. किसी दिव्य शक्ति, संत पुरुष, महापुरुष किसी लीडर को देखते हुए अपने मन को रोज उठते हुए और सोने से पहले यह संकल्प दे की

(a)    मेरे गर्भ में शक्तिशाली बच्चा है

(b)   मेरे गर्भ में इंटेलिजेंट बच्चा है

(c)   मेरे गर्भ में दिव्य बच्चा है

(d)    मेरे गर्भ में भगवान का बच्चा है

  1. शुभ संकल्पों से अपने गर्भ में पल रहे लड़का हो या लड़की हो बिना किसी लिंग भेद के उसे सहर्ष स्वीकार करें और उसकी प्रशंसा करें
  2. बीके रीटा दीदी ने राजयोग मेडिटेशन की मदद से 7 गुणों की ऊर्जा सुख शांति प्रेम पवित्रता ज्ञान आनंद और शक्ति को माता  शिशु के जीवन में लाने पर प्रकाश डाला
  3. साथ ही योगा एक्सपर्ट डॉक्टर गुनीत मोंगा भार्गव विभागाध्यक्ष पेसिफिक यूनिवर्सिटी ने गर्भवती महिला को योग प्राणायाम करने की महत्वता को समझाया समझाते हुए बताया कि गर्भवती बहन ने बहनों को गर्भवती का मतलब सिर्फ बहुत सारे हैवी डाइट खाना कुछ काम ना करना और बहुत आराम करना इस मानसिकता से ऊपर उठकर प्राणायाम और योग से शिशु और माता को होने वाले लाभ के बारे में जागरूक होना चाहिए

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

Source: BK Global News Feed

Comment here