Uncategorized

KISHAN RALLY KORBA-SAKTI 14-22 SEPT

किसान सशक्तिकरण रैली एवं स्नेह मिलन

कोरबाः 15.09.2019 – छत्तीसगढ़ किसान सषक्तिकरण अभियान के अंतर्गत विश्व सद्भावना भवन से विशाल रैली एवं विभिन्न झांकियों का शुभारम्भ मान्नीय जयसिंह अग्रवाल राजस्व एवं आपदा प्रबंधन केबिनेट मंत्री छत्तीसगढ़ शासन, आदरणीय लखनलाल देवांगन पूर्व विधायक कटघोरा, श्रीकान्त बुधिया अध्यक्ष अग्रवाल सभा कोरबा ने षिव घ्वज तथा कलश देकर किया। जयसिंह अग्रवाल ने अभियान के लिये अपनी शुभकामनायें व्यक्त करते हुए कहा कि इस अभियान की सफलता के लिये मैं सहृदय शुभकामनायें और बधाई देता हूं कि यह किसानों में यह एक नई चेतना और जाग्रति जायेगा। आध्यात्मिक ऊर्जा पार्क गेरवा घाट में आयोजित परिचर्चा एवं स्नेह मिलन में भ्राता पुरूषोत्तम कंवर विधायक कटघोरा, भ्राता देवेन्द्र पाण्डेय वरि. नेता भा.ज.पा, भ्राता एस. जयवर्धन मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कोरबा बहन प्रीति पवार ए.पी.ओ. जिला पंचायत कोरबा तथा अनेक स्थानों से आये किसान एवं सरपंच उपस्थित थे। ब्रह्माकुमारी सारिका बहन ने कहा कि हम लोग कोल्हापुर में लगभग 100 किसान मिलकर यौगिक एवं जैविक खेती में गोबर एवं गौमूत्र, के विभिन्न उत्पाद के उपयोग के साथ खेतो में जाकर परमात्म ऊर्जा के लिये मेडिटेशन करते हैं। जिसको शाश्वत यौगिक खेती व ऋृषि कृषि के नाम पर जाना जाता है। इससे अनाज की गुणवत्ता तथा फाईबर में बढ़ोत्तरी हुई ही। इस प्रयोग से प्रभावित होकर डाॅ. बालासाहेब सांवन्त कोकन कृषि विद्यापीठ दापोली, जिला रतनागिरी महाराष्ट्र में चार प्रकार की खेती पर रिसर्च का कार्य चल रहा है। पहला प्राकृतिक, दूसरा आर्गेनिक, तीसरा यौगिक, चैथा आर्गेनिक तथा यौगिक। चारों प्रकार की खेती के लिये अलग अलग स्थान बनाये गये हैं। इस पर आध्यात्मिक ऊर्जा का प्रभाव स्पष्ट देखने को मिलता है। भ्राता पुरूषोत्तम कंवर ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में आपस में मिलजुल कर कार्य करने की आवश्यकता है। सरकार भी नरवा, गरूआ, घुरवा और बारी योजना के अंतर्गत किसानों को प्रोत्साहित कर रही है। भ्राता देवेन्द्र पाण्डेय ने कहा यह अभियान कोरबा अंचल में जन जाग्रति लाने में निश्चित ही सफल हुआ है। देवरमाल में आयोजित कार्यक्रम में किसानों ने प्रेरणा ली कि अब हम रासायनिक खाद का उपयोग कम करेगें। आपने कहा कि मैं स्वयं भी गौषाला तथा जैविक खेती करने पर घ्यान देता हूॅं। भ्राता एस. जयवर्धन ने कहा कि किसी भी वस्तु की अति से नुकसान होता है और वह विष का कारण बन जाता है। बहन प्रीति पवार ने कहा कि विहान योजना के अंतर्गत सरकार सतत् जैविक खेती के लिये प्राकृतिक संसाधनों के उपयोग के लिये प्रोत्साहित कर रही है। ब्रह्माकुमारी रूकमणी बहन ने कहा कि अपनी मन की षक्ति से प्रकृति को जितना सशक्त बनायेंगें, तो ये तत्व भी आपके सेवाधारी बन जायेगें, कभी धोखा नहीं देगें। नृत्य नाटिका, तथा गीतों की शमा ने सभी का मन मोह लिया। उपस्थित सरपंचों का सम्मान साल और श्रीफल देकर किया गया। ब्रह्माकुमारी गीता बहन ने राजयोग का अभ्यास कराया। भ्राता शेखरराम ने मंच का संचालन किया।

Source: BK Global News Feed

Comment here