Uncategorized

विनाशक परिस्थितियों के समायोजन हेतु आध्यात्मिक प्रबंधन तपस्या

 

280 चुनिंदा तपस्वी बहनों ने विघ्नविनाशक तपस्या की

नीमच :  दि. 15.9.19  तीन –चार दिनों से लगातार हो रही अतिवृष्टि ने सामान्य जनजीवन को अस्त–व्यस्त करने के साथ ही एक भय व असुरक्षा की दहशत मन में बिठा दी । हालाकि सरकार व प्रशासन के प्रयासों से हर पीड़ीत को मदद अवश्य पहुंची है किन्तु मन, बुद्धि में व्याप्त तनाव, भय व अविश्वास की परिस्थितियों को तो केवल मेडिटेशन अनुभूति एवं आध्यात्मिक प्रबंधन से ही दूर किया जा सकता है । इसी लक्ष्य को सामने रख ब्रह्माकुमारी संस्थान के ज्ञान मार्ग स्थित विशाल सद्भावना सभागार में ब्रह्ममुहुर्त अमृतवेला 2.30 बजे से लगातार अखण्ड राजयोग तपस्या का तात्कालिक एवं आपातकालिक, आध्यात्मिक प्रबंधन कार्यक्रम रखा गया । व्यक्तिगत सूचनाओं एवं सोशल मिडिया के माध्यम से इस तपस्या कार्यक्रम में लगभग 30  से अधिक बाल–ब्रह्मचारी कन्याओं एवं 250 से अधिक चुनिन्दा राजयोग तपस्वी बहनों ने भाग लिया । इस आध्यात्मिक प्रबंधन तपस्या में ब्रह्माकुमारी संस्थान की सबझोन संचालिका एवं कार्यक्रम संयोजक बी.के.सुरेन्द्र भाई के साथ ही लगभग 25 ब्रह्माकुमारी बहनों ने 36 घंटे अखण्ड जागरण निद्राजीत स्थिति में गहन राजयोग तपस्या की तथा प्राकृतिक आपदा से पीड़ित दुखी व अशान्त आत्माओं के लिए अवढरदानी शिवभोले बाबा से आत्मशक्ति व विनाशक परिस्थितियों को सहन करने की क्षमता हेतु कामना की । देर शाम तक चले इस कार्यक्रम के अंत में ब्रह्मचर्य व्रतधारी तपस्वियों के हाथ से बना ब्रह्माभोजन सभी को परोसा गया ।

Source: BK Global News Feed

Comment here