Uncategorized

भरतपुरः ब्रह्माकुमारीज के स्थानीय सेवा केन्द्र द्वारा 83वाँ त्रिमूर्ति शिव जयन्ती महोत्सव

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

प्रातः 9.00 बजे से कलष यात्रा निकालकर मनाया गया। इस कलष यात्रा को हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ जिला पुलिस अधीक्षक हैदरअली जैदी जी द्वारा किया गया। कलष यात्रा को हरी झंडी दिखाने से पूर्व मुख्य अतिथि हैदर अली जैदी को ब्रह्माकुमारी बहनों द्वारा आत्मस्मृति का तिलक, बैज एवं पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। योगानुभूति कराई गई तथा आध्यात्मिक चित्र प्रदर्शन समझाई गई। ईश्वरीय प्रसाद एवं साहित्य सौगात दी गई तथा विजिटर बुक में उनकी ओपीनियन प्राप्त की गई। कलष यात्रा विश्व शान्ति भवन से शुरू होकर सूरजपोल – गोपालगढ़ – गोवर्धन गेट- कोतवाली – लक्ष्मण मंदिर, गंगा मंदिर- मथुरा गेट होते हुए विश्वशान्ति भवन पर सम्पन्न हुई। इस कलष यात्रा में सबसे आगे अश्वारोही ब्रह्माकुमार सुदेश भाई अपने हाथ में शिव ध्वज लेकर चल रहे थे। उनके पीछे ब्रह्माकुमारी बहिने शिव शक्ति के रूप में हाथो में शिव ध्वज लेकर चल रही थी। उनके पीछे कार की छत पर सवार होकर निराकार परमात्मा शिव का सजासजाया ‘शिव-लिंग’- आरूड़ था। कार के अन्दर शिव अवतरण के गीत तथा शिव के ज्ञान पर आधारित स्लोगन आकाशवाणी के रूप में गुजांयमान हो रही थी। मार्ग के दोनों तरफ खड़े दर्शकों को ईश्वरीय संदेश का पर्चा वितरित किया जा रहा था। उनके पीछे स्वर्णिम एवं श्वेत चूंदरी धारी कलशधारी माताओं का पंक्तिबद्ध दल चल रहा था। उनके साथ ही चल रहा था त्रिमूर्ति शिव जयन्ती के पट्टिकाधारी ब्रह्माकुमार भाईयों का पंक्तिबद्ध दल हाथों में शिव ध्वज लिये हुए। विश्व शान्ति भवन पर कलश यात्रा सम्पन्न होते ही इन सभी भाई-बहिनों का समूह शिव ध्वज लहराने हेतु विश्व शान्ति भवन के प्रांगण में सभा के रूप में परिवर्तित हो गया। इस सभा के मघ्य सजेढाये ध्वज दण्ड पर राजयोगिनी कविता बहन के नेतृत्व में सभी ब्रह्माकुमारी शिक्षिकाओं द्वारा मुख्य अतिथि भ्राता शिवसिंह भौंट, महापौर नगर निगम, भरतपुर तथा विशिष्ट अतिथि भ्राता डाॅ0 देशराज सिंह संयुक्त निदेशक कृषि, काका रघुनाथ सिंह, निदेशक, लक्ष्मी विलास हेरिटेज होटल, भरतपुर एवं जगन प्रसाद गर्ग, प्राचार्य, श्री अग्रसेन सी.सैक. स्कूल भरतपुर तथा वरिष्ठ ब्रह्माकुमार के सानिध्य में ध्वजारोहण किया गया। राजयोगिनी कविता बहन ने उपस्थित जनसमुदाय को अपने जीवन को परमात्मा शिव के निर्देशन में दिव्यीकरण करते हुए सम्पन्न एवं सम्पूर्ण बनाने की प्रतिज्ञायें करायी गई। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में भ्राता शिवसिंह भौंट द्वारा सभी भरतपुरवासियों को त्रिमूर्ति शिव जयन्ती की हार्दिक शुभकमानायें दी। विशिष्ठ अतिथि डाॅ. देशराज सिंह संयुक्त निदेशक कृषि विभाग भरतपुर द्वारा अपनी शुभकामनायें देते हुए सभी को शिव अवतरण का संदेश दिया गया। अन्य अतिथियों द्वारा भी सभी को अपनी ओर से 83वीं त्रिमूर्ति शिव जयन्ती की शुभकामनायें दी गई। अन्त में सभी को प्रसाद एवं ईश्वरीय सौगात वितरित की।

Source: BK Global News Feed

Comment here