Uncategorized

तोशाम : विश्व  तम्बाकू निषेध दिवस

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 25%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

तम्बाकू एक मीठा जहर है जो दीमक की भाति शरीर को अंदर से खोखला कर देता है व अनेक प्रकार की बीमारियों को जन्म देता है। यह बात विश्व  तम्बाकू निषेध दिवस पर शुक्रवार को  प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की शाखा तोशाम  तथा राजयोग एजुकेशन & रिसर्च फाउंडेशन के मेडिकल विंग के सयुंक्त तत्वाधान  में आयोजित व्यसन मुक्ति कार्यक्रम  में स्थानीय सेवा केंद्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी मंजू ने कही। उन्होंने कहा कि सभी सामाजिक समस्याओं की जड़ नशा है जिससे हमें अल्पकाल के लिए शांति , सुख का अनुभव होता है लेकिन स्थाई नहीं। ब्रह्माकुमारी मंजू ने कहा कि आज का मानव अनेक सामाजिक, पारिवारिक समस्याओं के कारण दुख, अशांति  व तनाव से ग्रसित रहता है। इसलिए अनेक प्रकार के लड़ाई-झगड़े भी दिन-प्रतिदिन समाज में बढ़ते जा रहे है, जिसका प्रभाव घर, परिवार के साथ साथ स्वयं व बच्चों पर भी नकारात्मक पड़ता है। कार्यक्रम में कैरू सेवा केंद्र प्रभारी ब्रह्मकुमारी शोभा ने कहा कि तम्बाकू में निकोटीन जैसे अनेक हानिकारक पदार्थ होते है जो कैंसर जैसी भयंकर बीमारियों को जन्म देता है। उन्होंने कहा कि एक सिगरेट पीने से एक दिन में मनुष्य की 6 मिनट आयु कम होती है। इस प्रकार तम्बाकू व इससे बने पदार्थो के सेवन से तन, मन व धन का बड़ा नुकसान होता है। ब्रह्मकुमारी शोभा ने तम्बाकू व अन्य व्यसनों से मुक्ति का सहज उपाय राजयोग बताया। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन राजयोग के अभ्यास से जीवन में सुख, शांति, आनंद की अनुभूति होती है।  बी के शोभा ने उपस्थित सभा को राजयोग मैडिटेशन की गहन अनुभूति कराई , जिसने सभा में उपस्थित बच्चों  को कुछ समय के लिए मंत्रमुग्ध कर दिया I डॉ सतेन्द्र, एस एम ओ, सी अच सी, तोशाम   ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि नशा एक बहुत बड़ी बीमारी है। अगर हमें बच्चों को संस्कारित बनाना है तो व्यसनों से मुक्त करना होगा साथ साथ हमें स्वयं को भी व्यसनों से मुक्त होना होगा। क्योंकि हमारे जीवन का हमारे परिवार व बच्चों पर सीधा प्रभाव पड़ता है। उन्होंने  जीवन के व्यवहारिक ज्ञान द्वारा व्यसन मुक्त खुशनुमा जीवन जीने के विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी I

कार्यक्रम में कुमारी सीमा ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया | स्टेज का सकुशल संचालन  बी के सुनीता द्वारा किया गया | 
 
इस कार्यक्रम में राजकीय उच्च विद्यालय तोशाम , पी एस नवयुग स्कूल तोशाम, शिव आई टी आई तोशाम ,मॉडल संस्कृति स्कूल तोशाम  से  लगभग 250 बच्चों ने भी भाग लिया | सभा में उपस्थित बच्चों  ने शराब, नशीले पदार्थो और तम्बाकू के इस्तेमाल न करने की दृढ प्रतिज्ञा ली I   | इस कार्यक्रम में  अध्यापिका एकता , शशि ,मास्टर आत्मा राम, लेक्चरर राजेश कुमार ,लेक्चरर दक्षेन्द्र ,हेल्थ इंस्पेक्टर राजेंद्र , सतबीर सिंह ,बी के रामेश्वर  आदि मौजूद थे | 

Source: BK Global News Feed

Comment here