Uncategorized

Ahmedabad – Dadi Jankiji Arrival at Gujarat Global Retreat Center

जिस गुजरात की भूमि पर बाबा ने मुझे पहले पहले बिठाया उस गुजरात में बाबा का इतना बड़ा रिट्रीट बन रहा है, वह मेरी भी शान है  – आदरणीय दादी जानकीजी

            बापदादा की गोद में सदैव रहने वाली और चलने वाली, हर पल बाबा के संग व साथी, बापदादा की छत्रछाया में रहते हुए, वर्तमान में बेहद यज्ञ की पालना की मूर्ति, ज्ञानरत्नों से श्रुगारित, विश्व में भ्रमण करते हुए विश्व कल्याणकारी बन सर्व कों सकाश देने वाली, ऐसी परम विभूति संपन्नता की साक्षातमूरत, परम आदरणीय जानकी दादीजी का दिनांक 6 अप्रैल 2019 शनिवार को चेटीचंद, गुड़ीपड़वा और चैत्रि नवरात्रि प्रारंभ के त्रिवेणी पर्व पर गुजरात के अहमदाबाद शहर के पास में निर्माण हो रहे गुजरात ग्लोबल रिट्रीट सेंटर की इंद्रप्रस्थ भूमि में शुभ आगमन हुआ|

#gallery-3 {
margin: auto;
}
#gallery-3 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-3 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-3 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

      गुजरात के अलौकिक इतिहास में इस महान दिवस पर दादीजी के वरद हस्तो से इंद्रप्रस्थ भूमि पर ब्रह्मस्थान में निर्माण होने वाले पिरामिड टाइप के बाबा के भव्य होल का मंगल खात मुहूर्त संपन्न हुआ| साथ-साथ टैक्सास USA के ब्र.कु. डॉ हंसा बहन रावल के 1000 चौरस वार के नवनिर्मित विला में आदरणीय दादी जानकीजी ने अपने शुभ पावन कदम रख शुभ मुहूर्त की सभी मंगल विधि अपने हस्तों से किया|

      तत्पश्चात सुशोभित मंच पर बहुत ही धाम-धूम से गीत संगीत के साथ दादीजी की अलौकिक समारोह में पधरामणि हुई आदरणीय दादीजी के द्वारा मंगलदीप प्रागट्य विधि और केक कटिंग का सेलिब्रेशन हुआ| परम श्रद्धेय दादीजी के यह आशीर्वचन रहे – “हमारे मधुबन और अहमदाबाद के के बीच में जो रिट्रीट बन रहा है, यह वंडरफुल स्थान है| सभी पहले यहां आएंगे फिर अहमदाबाद आते वाया आबू पहुंचेंगे| जिस गुजरात की भूमि पर बाबा ने मुझे पहले-पहले बिठाया, उस गुजरात की भूमि पर बाबा का इतना बड़ा रिट्रीट बन रहा है, वह मेरी शान है| दादीजी के साथ मीठी हंसा बहन, टैक्सास की डॉ. हंसा बहन रावल, बी.के. मार्क भाई, गुजरात जॉन की आदरणीय सरला दीदी, ब्र.कु. डॉ. मुकेश भाई, बीके विनोद भाई, ब्र.कु. नेहा बहन, ब्र.कु. उषा बहन और ब्र.कु. अमर बहन मंच पर उपस्थित थे| कुमारी दामिनी ने मनभावन भाव के साथ स्वागत गीत प्रस्तुत किया| सिंधी नव वर्ष के उपलक्ष में कुमारी विश्वंभरा के मनमोहन नृत्य से सभी में आनंद की लहर छा गई| GGRC के सभी मेम्बर, कई सेवाकेंद्र के सीनियर बहने और मुख्य भाइयों ने इस अनूठे अनमोल कार्यक्रम का लाभ लिया|

Source: BK Global News Feed

Comment here