Uncategorized

NASHA MUKTI SAPTAH 30 JAN-5FEB2019

   नशा-मुक्ति सप्ताह में अनेकानेक कार्यक्रम आयोजित

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की पुण्यतिथि पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के तत्वाधान में नशा-मुक्ति सप्ताह का शुभारम्भ विश्व सद्भावना भवन टी पी नगर कोरबा में कोरबा में दीप प्रज्जवलित करके किया गया। विशयः नशे की शान जीवन परेशान पर आयोजित परिचर्चा में अपने विचार व्यक्त करते हुए डाॅ के.सी.देबनाथ ने कहा कि नशे को शान समझ लोग नशे के भंवर में फंस जाते हैं लेकिन इसका अंतिम परिणाम बीमारी, कैन्सर और मौत ही है। भ्राता राजन पटेल ने कहा कि मैं एक कोयला परिवहन करने वाला एक ट्रक ड््राईवर हूॅ। हमारी जीवन शैली में नशा एक फैशन ही है और मैं भी नशे का आदि हो गया था। सभी मुझसे परेशान थे। ब्रह्माकुमारी संस्थान से जुड़कर मुझे नशा को त्याग करने का मनोबल प्राप्त हुआ। पहले मैं पीता भी था और तम्बाकू भी खाता था, लेकिन अब मैं सम्पूर्ण नशा मुक्त हूॅं। भ्राता अहमद खान ने कहा कि नशा करने को लोग शान समझते हैं। नशा एक आधुनिक जमाने का फैशन बनता जा रहा है। जिससे युवा नशे के प्रभाव में फंसते जा रहें हैं। भ्राता डाॅ बी.पी. सिन्हा ने कहा कि अपने ही घर परिवार से छोटे छोटे प्रयास करने से ही हमारा समाज नशा मुक्त बन सकेगा। भ्राता पन्नालाल साहू हमें अपनी नींव को मजबूत करने के लिये समाज में जो छोटे बच्चे हैं, उन्हें जागृत करने की आवश्यकता है। ब्रह्माकुमारी सारिका ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की एक कल्पना थी कि भारत देश में रामराज्य की स्थापना हो। आज दुनिया में नशे से सभी परेशान हैं और पढ़े-लिखे लोग इस व्यसन की बीमारी से अधिक ग्रस्त हैं। यह एक विचारणीय विशय है। युवा अनीश शर्मा, संतोश शर्मा, भ्राता कौशल शिक्षक, बहन रश्मि शर्मा, बहन सुनीता शर्मा ने भी अपने विचार व्यक्त किये।
मेला ग्राउण्ड कटघोरा में ब्रह्माकुमारी के द्वारा शिव दर्शन भव्य झांकी में आयोजित नशा मुक्ति कार्यशाला में संत मनबोध सिंह ग्राम मनगंवा, जलके ने कहा कि मैं पहले बहुत नशा करता था। मुझे ऐसी ईश्वरीय प्रेरणा मिली तो मेरा नशा भी छूट गया और अब मैं बहुत खुशी से जीवन व्यतीत कर रहा हूॅ। भ्राता आर.जे.जायसवाल सेवानिवृत प्रभारी प्रधान पाठक जुराली ने कहा कि बच्चे तो नादान होते हैं उनसे नशा छुड़ाने के लिये प्यार और संयम से व्यवहार करना चाहिए। बहन सुमन सिंह शिक्षिका, बहन श्रेया भोंसले 11वीं, तथा हर्ष उपाध्याय 11वीं डी.ए.वी. विद्यालय जुराली कटघोरा, भ्राता दीपक गर्ग षिक्षक , भ्राता कमल कर्माकर, भ्राता शेखर राम ने विचार व्यक्त किये। ब्रह्माकुमारी पुष्पा बहन उपस्थित जन समूह को झांकी में बने 15फुट उंचे भव्य शिव लिंग को साक्षी रखते हुए नशा मुक्त होने का संकल्प कराया तथा सभी को अमरनाथ गुफा और द्वादस ज्यार्तिलिंग झांकी का अवलोकन कराया। आपने अंचल वासियों को झांकी अवलोकन के लिये आमंत्रित किया।
विद्यालयों में आयोजित नशा मुक्ति कार्यक्रम में बहन चन्दना पाल प्राचार्या षा.उ.मा.वि. एन.सी.डी.सी, बहन शोभना टोप्पो प्रधान पाठिका पूर्व मा. विद्यालय राताखार, बहन गीता गुप्ता प्रधान पाठिका शा. प्रा. शाला राताखार ने अपने विचार व्यक्त किये। ग्राम कोरकोमा में नषा मुक्ति के लिये जन जागृति लाई गई।

Source: BK Global News Feed

Comment here