Uncategorized

ब्रह्माकुमारीज कामठी में हर्ष उल्लास के साथ मनाया महाशिवराञी पर्व

कामठी – प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय कामठी की राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी प्रेमलता दीदी ने परमात्मा का संदेश देते हुए कहा कि ज्ञान के अभाव में मनुष्य ईश्वरीय वरदानों से वंचित रहता है। अज्ञान अंधकार के कारण आत्मा विकर्म करने के बाद दु:ख, अशान्ति की अनुभूति करती है। ऐसी तनावजन्य जिंदगी को सुखमय बनाने के लिए नियमित रूप से सत्यम् शिवम् सुन्दरम् शिव परमात्मा के सत्य ज्ञान का अनुसरण करना चाहिए। आत्मचिंतन करने से परमात्मा का अनुभव किया जा सकता है। परमपिता शिव परमात्मा के साथ संबंध जोडऩे से ही आत्मा मुक्ति व जीवनमुक्ति का अनुभव कर सकती है। जीवन में असफलता का एकमात्र कारण अज्ञान अंधकार है। उन्होंने कहा कि सत्य ज्ञान व ईश्वर का ध्यान ही आत्मा का सशक्तिकरण करता है। जितना ज्यादा मन, बुद्धि को आध्यात्मिक ज्ञान से परिपूर्ण रखेंगे उतना ही जीवन में आने वाली समस्याओं को खेल की तरह पार कर सकते हैं। आत्मा में अथाह शक्तियों का खजाना है, आत्मजागृति के लिए राजयोग का अभ्यास करना चाहिए। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित करके की गई । जिसमें सरपंच सौ सुवणा ताई साबरे, सौ विमलताई साबले,वैशाली ताई डोणेकर ,स्टेट बैंक मैनेजर रामनरेश शरण, पूर्व विधायक देवरावजी रडके, नारायणजी अग्रवाल, नागोरावजी साबले, आदि गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। सभी ने झंडे के नीचे खडे होकर प्रतिज्ञा कर प्रेमलता दीदी ने शिव ध्वजारोहण किया। कार्यक्रम में गांव गांव से सैकड़ों लोगों ने उत्साह के साथ भाग लिया

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

Source: BK Global News Feed

Comment here