Uncategorized

GURU GHASIDAS JAYANTI 18 DECEMBER

 संत गुरू घासीदास जयंति पर राजयोग प्रशिक्षण बलगी में
संत गुरू घासीदास जयंति के अवसर पर जैतखाम परिसर में आयोजित समारोह में ब्रह्माकुमारी बिन्दु बहन ने कहा समय समय पर धर्म की रक्षा के लिये संत पुरूशों का जन्म इस धरा पर होता है। आपसी भेदभाव को भाईचारा लाना ही सच्ची मानवता है। जीव हत्या और मांसाहार से दूर रहकर सत्य के मार्ग पर चलना ही सत्यता की दीपक को जगाना है। वैसे तो हम सभी एक परमपिता की संतान आत्मिक नाते से आपस में भाई भाई है। रीति, रश्म-रिवाज और कार्यशैली की भिन्नता ही धर्म और जाति पांति की दीवारें खड़ी करती है। संत गुरू घासीदास नजरों में मनखे मनखे एक समान अर्थात हर आत्मा रूपी मणि की चमक अपनी और विशेषता अपनी है। सतगुरू जी की शिक्षाओं में नशा, चोरी, जुआ, व्यभिचार, से दूर सतनाम् पर विश्वास रखना ही सच्चा धर्म है। बाहरी आडम्बर व दिखावा पर उनका विश्वास नहीं था। ब्रह्माकुमारी भारती बहन ने कहा कि राजयोग का प्रशिक्षण सच्ची मानवता को धारण कर देव तुल्य बनना है। सत्यता की धारणा में शक्ति है। सत्य मार्ग पर चलना कठिन हो सकता है, लेकिन सत्यता का प्रकाश पार ले जाने वाला है। कहते भी हैं कि सत्यता की नांव हिलती डुलती हिलोरें खाती है, लेकिन डूबती नहीं है। सत्यता को स्वयं ही सिद्धी प्राप्त होती है जोकि समय आने पर स्वयं प्रत्यक्ष हो जाती है। सत्यता स्व प्रकाशित मणि है, जिसे किसी भी प्रकार के बादल ढ़क नहीं सकते। वर्तमान समय में परमपिता शिव परमात्मा इस धरा पर अवतरित होकर इस कलियुगी दुनिया को परिवर्तन कर सतयुग की स्थापना कर रहें हैं। एवं सबका भाग्य निर्माण कर रहें हैं। आप सभी भी ईश्वरीय ज्ञान प्राप्त करने के लिये सादर आमंत्रित हैं। सत्संग प्रार्थना में गणेष सोनवानी, डेलूराम मनहर, दशरथ डेहरे, पार्वती लहरे एवं अनेक लोग उपस्थित थे।
इस अवसर पर बलगी में क्वार्टर क्रं सी-1 में राजयोग प्रशिक्षण का शुभारम्भ दीप प्रज्जवलित कर किया गया। भ्राता विजय कुमार सिंह प्रबंधक एस.ई.सी.एल बलगी ने कहा कि मुझे बेहद खुशी है कि बलगी में ब्रह्माकुमारी बहनों के द्वारा यह शुभ कार्य प्रारम्भ हो रहा है, जिस ज्ञान से हम सभी लाभान्वित होगें। अभियंता भ्राता ओषांक ने कहा कि यहां पर राजयोग के अभ्यास से आत्मिक शांति की अनुभूति होती है। भ्राता अयोध्या प्रसाद लहरें ने कहा कि इस अवसर पर राजयोग केन्द्र की स्थापना से लोगों को सत्य मार्ग पर चलने की शक्ति मिलेगी।

Source: BK Global News Feed

Comment here